पति-पत्नी को बेडरूम में ऐसे नहीं सोना चाहिए - जानिए सोने का सही तरीका


अक्सर Husband-Wife (पति-पत्नी) Sleep (सोते) समय लापरवाही से सोते हैं, यह नहीं सोचते कि उनकी गलत नींद की आदतें वैवाहिक जीवन में संघर्ष और सामंजस्य की कमी का कारण बन सकती हैं। वास्तु विज्ञान कहता है कि अगर पति-पत्नी सोते समय कुछ बातों का ध्यान रखें तो दांपत्य जीवन की कई समस्याओं से बचा जा सकता है। साथ ही संतान के सुख में बाधा से भी बच सकते हैं।

पति-पत्नी को बेडरूम में ऐसे नहीं सोना चाहिए - जानिए सोने का सही तरीका



Bedroom (बेडरूम) में ऐसे नहीं सोना चाहिए पति-पत्नी को, बर्बाद हो जाता है परिवार, जानिए सोने का सही तरीका यहाँ।

कौन ज्यादा खुश है? करोड़पति या खेत मजदूर? इसे पढ़ेंगे तो जिंदगी में कभी दुखी नहीं होंगे

पति-पत्नी के सोने का सही तरीका

वास्तु विज्ञान में कहा गया है कि वैवाहिक जीवन में आपसी प्रेम और सद्भाव के लिए पत्नी को पति के बाईं ओर सोना चाहिए। इसके पीछे कारण यह है कि पत्नी को पति का बायां हाथ माना जाता है। जबकि पति को पत्नी का सही हिस्सा माना जाता है। यह पारिवारिक जीवन में संतुलन बनाए रखता है।

रिश्तों में खटास आने लगती है

नवविवाहित जोड़े को उत्तर-पूर्व की ओर मुख वाले कमरे में या उत्तर-पूर्व की ओर मुख वाले कमरे में बिस्तर नहीं रखना चाहिए। वास्तु विज्ञान के अनुसार, उत्तर पूर्व दिशा का स्वामी बृहस्पति है, जो यौन संबंधों में उत्साह की कमी का कारण बनता है, जिसके कारण दाम्पत्य जीवन नीरस हो जाता है और आपसी सद्भाव का अभाव होता है।

इस तरह सोने से प्यार का जुनून बढ़ता है

पति-पत्नी में यौन इच्छा की कमी के कारण आपसी सौहार्द की कमी होती है और अक्सर विवाद होते हैं, ऐसे में जोड़े को दक्षिण-पूर्व दिशा वाले कमरे में सोना चाहिए या इस दिशा में अपना बिस्तर रखना चाहिए। यह दिशा शुक्र ग्रह से प्रभावित होती है और इसे अग्नि का वास माना जाता है, इसलिए इस दिशा में सोने से दांपत्य जीवन के प्रति उत्साह और ऊर्जा का संचार होता है।

भावुक जोड़ों का बेडरूम यहां न रखें

लेकिन जिन जोड़ों की कामेच्छा अधिक होती है उन्हें अपना बेडरूम दक्षिण पूर्व दिशा में नहीं रखना चाहिए। यह कामेच्छा में वृद्धि के कारण समस्या पैदा कर सकता है।

इस दिन बाल काटने से आपके घर में धन की प्राप्ति हो सकती है - जाने

ऐसा बेडरूम हर तरह से सबसे अच्छा माना जाता है

वास्तु विज्ञान के अनुसार उत्तर पश्चिम का बेडरूम पति-पत्नी के लिए हर तरह से सर्वोत्तम होता है, इससे आपसी प्रेम और सौहार्द बढ़ता है। संतान सुख के लिए भी यह बेडरूम सर्वश्रेष्ठ माना जाता है।

Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Post a Comment

Previous Post Next Post