बिना एक रुपया खर्च किए घूमना है तो इन 6 जगहों पर जाएं


अगर आपको Travel (घूमने) का शौक है तो भारत में कई ऐसी जगहें हैं जहां आपको खाना, पीना और फ्री में रहना मिल सकता है। इसका मतलब है कि आप कम कीमत में यात्रा का आनंद ले सकते हैं। आपको शायद इस बात पर यकीन न हो, लेकिन यह बिल्कुल सच है।

बिना एक रुपया खर्च किए घूमना है तो इन 6 जगहों पर जाएं



तो आइए जानते हैं उन जगहों के बारे में जहां आप Trip Plan (ट्रिप प्लान) बनाकर बजट की चिंता किए बिना घूमने का मजा ले सकते हैं। क्योंकि दो चीजें सबसे ज्यादा जरूरी हैं, जो आपको मुफ्त में मिलती हैं और वह है खाना-पीना और मकान। यह उन लोगों के लिए एक अच्छा विकल्प है जो एक तंग बजट पर हैं और यात्रा करने की अपनी इच्छा को दबाते हैं। तो आइए बिना देर किए जानते हैं उन जगहों के बारे में।

सपने में गाय देखना शुभ या अशुभ ? जानिए इसका क्या मतलब है

Manikaran Sahib Gurdwara (मणिकरण साहिब गुरुद्वारा)

अगर आप हिमाचल प्रदेश घूमने जा रहे हैं तो आपको मणिकरण साहिब गुरुद्वारे में रुकना चाहिए। यहां आपको न सिर्फ खाना, पीना और रहना फ्री में मिलता है, बल्कि पार्किंग की भी फ्री सुविधा मिलती है। अगर आप अपनी कार से जा रहे हैं तो आपको पार्किंग की भी चिंता करने की जरूरत नहीं है।

Anand Ashram (आनंद आश्रम)

अगर आप केरल की यात्रा पर जा रहे हैं तो हरियाली के बीच स्थित यह आनंद आश्रम आपके ठहरने के लिए सबसे अच्छी जगह है। यहां आपको तीन बार खाना भी फ्री में मिलेगा। हालांकि यह खाना कम तेल और मसालों से तैयार किया जाता है, जो आपकी सेहत को भी खराब होने से बचाता है।

Geeta Bhavan (गीता भवन)

अगर आप ऋषिकेश घूमने का प्लान कर रहे हैं तो गीता भवन में रुक सकते हैं। इस आश्रम में 1000 कमरे हैं। यहां सत्संग और योग सत्र भी आयोजित किए जाते हैं। यह स्थान गंगा नदी के तट पर स्थित है। यहां से आप प्राकृतिक सुंदरता का भी लुत्फ उठा सकते हैं।

Isha Foundation (ईशा फाउंडेशन)

यह फाउंडेशन कोयंबटूर से लगभग 40 किमी की दूरी पर स्थित है। यहां भगवान शिव की एक सुंदर और विशाल मूर्ति भी है। यहां आप स्वेच्छा से दान कर सकते हैं। ईशा फाउंडेशन सामाजिक कारणों की दिशा में काम करता है।

India Heritage Services (भारत विरासत सेवाएं)

इस आश्रम की अपनी एक अलग कहानी है। आश्रम और संस्थान स्वस्थ जीवन शैली के लिए शरीर और मन को ठीक करने के लिए पाठ्यक्रम प्रदान करते हैं। स्वयंसेवी कार्यक्रमों में भाग लेकर कोई भी यहां मुफ्त रहने की सुविधा का लाभ उठा सकता है। यहां आपको विदेश से आए लोगों के बीच रहने और उनसे बातचीत करने का भी मौका मिलेगा। अच्छी बात यह है कि आश्रम स्वयंसेवी गतिविधियों में भाग लेने वालों को प्रशंसा पत्र भी देता है।

घुटने के दर्द से परेशान हैं तो अपनाएं ये 3 घरेलू नुस्खे मिलेगा 100% आराम

Ramanashram (रामनाश्रमम)

तिरुवन्नामलाई की पहाड़ियों में स्थित इस आश्रम में भगवान श्री का विशाल मंदिर है। आश्रम में एक विशाल बगीचा और एक पुस्तकालय है। श्री भगवान के भक्तों को यहां ठहरने के लिए कोई किराया नहीं देना पड़ता है। फायदा यह है कि यहां आप शुद्ध शाकाहारी भोजन का आनंद ले सकते हैं। इसके लिए आपको अपने यात्रा समय से कम से कम छह सप्ताह पहले यहां ठहरने की बुकिंग करनी होगी।

Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Post a Comment

Previous Post Next Post