सपने में गाय देखना शुभ या अशुभ ? जानिए इसका क्या मतलब है



स्वप्न शास्त्र: कई बार सपने सोते समय दिखाई देते हैं और कई बार जागने के बाद भी हमारे दिमाग में रहते हैं। हम उस सपने के पीछे का अर्थ जानने के लिए उत्सुक हैं। क्योंकि हर सपने के पीछे कोई न कोई अर्थ जरूर होता है और अगर आप उस अर्थ को जानते हैं तो आने वाले समय को लेकर थोड़ा सतर्क हो सकते हैं। इसलिए सपनों को नज़रअंदाज़ करने की बजाय उनका मतलब समझने की कोशिश करें।

सपने में गाय देखने का भी एक गंभीर अर्थ छिपा होता है। अगर आप सपने में गाय देखते हैं तो समझ लें कि आने वाला समय आपके लिए काफी फायदेमंद रहेगा। यानी सपने में गाय देखना शुभ होता है, क्योंकि शास्त्रों के अनुसार गाय को पवित्र माना जाता है और यह कामधेनु का एक रूप है। यह भी पढ़ें- बारिश के पानी से करें ये 3 उपाय, यह मौसम लाएगा धन और चमक भाग्य

पौराणिक कथा के अनुसार समुद्र मंथन में अमृत कलश के साथ 14 अन्य रत्न भी मिले थे, जिनमें से एक कामधेनु गाय थी। गाय को पशुधन कहा जाता है और हिंदू धर्म में इसका विशेष महत्व है।

स्वप्न शास्त्र के अनुसार सपने में गाय देखना शुभ होता है और इसका मतलब है कि निकट भविष्य में आपको अपने जीवन में सुख की प्राप्ति होगी। अगर आप सपने में सफेद रंग की गाय देखते हैं तो इसका मतलब है कि आपको सफेद रंग की चीजों और व्यापार में लाभ मिलने वाला है।

वहीं अगर आप सपने में गाय का बछड़ा देखते हैं तो समझ लें कि आपको जल्द ही धन की प्राप्ति होगी। इसे शुभ संकेत माना जाता है। आपको बता दें कि सावन के महीने में अगर सपने में गाय दिखाई दे तो यह आपके जीवन में खुशियों का संकेत है।

अस्वीकरण: यहां दी गई सभी जानकारी सामाजिक और आर्थिक मान्यताओं पर आधारित है।

जो लोग आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं, उनसे कहें कि बारिश के पानी को मिट्टी के बर्तन में इकट्ठा करें और फिर इसे अपने घर के उत्तर या उत्तर दिशा में रखें। माना जाता है कि इस उपाय को करने से आर्थिक संकट दूर हो सकता है।

ऐसी भी मान्यता है कि बारिश के पानी को छत पर रखना चाहिए। और जब मौसम साफ हो और सूरज निकल आए तो उस पानी को धूप में अच्छी तरह दिखा दें। अब अपने इष्टदेव का स्मरण करें और उस जल को आम के पत्ते पर छिड़कें। ऐसा करने से धन की कमी पूरी होती है।

अगर आप कर्ज से परेशान हैं तो किसी बर्तन में बारिश का पानी इकट्ठा कर लें, फिर उस पानी को हनुमानजी के सामने रख दें। अब 51 दिनों तक हनुमान चालीसा का पाठ करें और उसके बाद जल छिड़कें।

Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


Post a Comment

Previous Post Next Post